मिस्बाहुल हक़ बन सकते हैं पाकिस्‍तान के नए हेड कोच!

मिस्बाहुल हक़ बन सकते हैं पाकिस्‍तान के नए हेड कोच!

कराची: पाकिस्‍तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) ने शुक्रवार को कहा कि वह मौजूदा हेड कोच मिकी आर्थर का अनुबंध आगे नहीं बढ़ाएगा। इसके अलावा बल्‍लेबाजी कोच ग्रांट फ्लावर, गेंदबाजी कोच अजहर महमूद और ट्रेनर ग्रांट लुडेन का करार भी वह आगे नहीं बढ़ाएगा। पाकिस्‍तान क्रिकेट टीम के हेड कोच मिकी आर्थर और सपोर्ट स्‍टाफ का कार्यकाल 15 अगस्‍त को समाप्‍त हो रहा है।

अब पाकिस्‍तान क्रिकेट टीम को नए हेड कोच की तलाश है और इस रेस में सबसे आगे नाम पूर्व कप्‍तान मिस्‍बाह उल हक का चल रहा है। क्रिकेट पाकिस्‍तान के मुताबिक मिस्‍बाह हेड कोच बनने की दौड़ में सबसे आगे चल रहे हैं। पता हो कि मिस्‍बाह ने 75 टेस्‍ट, 162 वनडे और 39 टी20 अंतरराष्‍ट्रीय मैचों में पाकिस्‍तान का प्रतिनिधित्‍व किया है। वह एहसान मनी के नेतृत्‍व वाले प्रशासन में अपनी सेवाएं देने की क्षमता रखते हैं।

अपने क्रिकेट करियर के दौरान मिस्‍बाह ने 2010 स्‍पॉट फिक्सिंग स्‍कैंडल के बाद कप्‍तानी की जिम्‍मेदारी उठाई थी। पाकिस्‍तान क्रिकेट बोर्ड भी पूरा कोचिंग स्‍टाफ बदलने के पक्ष में है। बता दें कि पाकिस्‍तान क्रिकेट बोर्ड सबसे पहले कोच पद के लिए आवेदन करने का विज्ञापन जारी करेगा। यह भी जानकारी मिली है कि अगर पाकिस्‍तान को बेहतर उम्‍मीद्वार मिलता है तो फिर मिस्‍बाह को बल्‍लेबाजी कोच बनाया जाना तय है।

क्रिकेट पाकिस्‍तान के मुताबिक सूत्रों ने बताया है कि पाकिस्‍तान के पूर्व तेज गेंदबाज मोहम्‍मद अकरम को गेंदबाजी कोच की जिम्‍मेदारी सौंपी जा सकती है। अकरम इस समय हबीब बैंक लिमिटेड (एचबीएल) और पाकिस्‍तान सुपर लीग की फ्रेंचाइजी पेशावर जल्‍मी के हेड कोच हैं। 44 वर्षीय की इसी भूमिका के लिए 2012 में भी नियुक्ति की गई थी।

बता दें कि पीसीबी के निर्णय से मिकी आर्थर बेहद निराश हैं। मिकी आर्थर ने बुधवार को कहा, 'मैं काफी निराश और आहत हूं।' उन्होंने आगे कहा, 'मैंने पाकिस्तान क्रिकेट को ऊंचा उठाने की दिल से कोशिश की।' मालूम हो कि पीसीबी की क्रिकेट समिति की शुक्रवार को हुई बैठक में यह फैसले लिए गए। पाकिस्तान विश्व कप में नॉकआउट चरण में भी नहीं पहुंच पाया था। उसके और न्यूजीलैंड के 11 अंक थे लेकिन बेहतर रन रेट की वजह से कीवी टीम सेमीफाइनल में पहुंच गई।