सरकारी उदासीनता के चलते देश के युवाओं का पहलवानी से मोह भंग: मनोज सिंह चौहान

सरकारी उदासीनता के चलते देश के युवाओं का पहलवानी से मोह भंग: मनोज सिंह चौहान

सरसवां गांव में हुआ भव्य दंगल का आयोजन

लखनऊ, अर्जुनगंज के निकट स्थित सरसवां गांव में नागपंचमी (गुड़िया) के अवसर पर भव्य दंगल का आयोजन किया गया। इस अवसर पर सरसवां गांव निवासी व समाजसेवी एवं क्षत्रिय समाज हमारा स्वाभिमान संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष मनोज सिंह चैहान ने दंगल का संचालन करते हुए कहा कि पहले हर गांव का लड़का पहलवान बनना चाहता था लेकिन अब सरकारी उदाशीनता के चलते युवाओं का कुश्ती पहलवानी से मोह भंग हो रहा है। कुछ युवाओं ने इस क्षेत्र में आने की हिम्मत दिखाई भी तो उन्हें पैसे कमाने के लिए दंगल दंगल की खाक छाननी पड़ती है। सरकार को पहलवानों के लिए बीमा व मासिक भत्ते की व्यवस्था करनी चाहिए ताकि युवा वर्ग पहलवानी (कुश्ती) में अपना भविष्य बना सके। सरसवां गांव के दंगल में उत्तर प्रदेश से इक्कीस जिलों के पहलवानो ने भाग लिया। सभी पहलवानों ने बेहतर प्रदर्शन किया। सबसे बड़ी कुश्ती लखनऊ के मखनिया मोहाल से विनीत यादव ने बहराइच से आये राजेश पहलवान को हरा कर इक्कीस सौ का पुरस्कार जीता। इस अवसर पर दंगल आयोजक उदय प्रताप सिंह, अखण्ड प्रताप सिंह, विष्णु प्रताप सिंह ने पहलानों को पुरस्कार दिया। इस अवसर पर नन्हा सिंह चैहान, वरूण सिंह चैहान, शैलेन्द्र चैहान, रमन सिंह, अभय सिंह, हर्षवर्धन सिंह, पन्ना सिंह, मोती सिंह, विशाल सिंह समेत सैकड़ो ग्रामीण उपस्थित थे।

Lucknow, Uttar Pradesh, India