भारतीय जुजुत्सू खिलाड़ी शानदार प्रदर्शन के साथ अगले दौर में

भारतीय जुजुत्सू खिलाड़ी शानदार प्रदर्शन के साथ अगले दौर में

जुजुत्सू थाईलैंड ओपन ग्रांड प्रिक्स में कई पदकों की उम्मीद

लखनऊ। भारतीय खिलाड़ियों ने थाईलैंड की रंगसित यूनिवर्सिटी, लॉक होक, एम्फो मुआंग पाथुम थानी में आयोजित जुजुत्सू थाईलैंड ओपन ग्रांड प्रिक्स-2019 (जेजेआईएफ वल्र्ड रैंकिंग टूर्नामेंट) में पहले दिन हुए पहले दौर के मुकाबलों में दमदार प्रदर्शन के साथ अगले दौर में जगह पक्की कर ली। इस टूर्नामेंट में 16 देशों की टीम पदकों के लिए दावेदारी कर रही है जिसके बारे में जानकारी देते हुए भारतीय टीम के कोच सैयद रफत (आइकोनिक ओलंपिक गेम्स अकादमी के संस्थापक व पूर्व अंतर्राष्ट्रीय ताइक्वांडो खिलाड़ी) ने उम्मीद जताई कि भारतीय जुजुत्सू टीम को इस टूर्नामेंट में 7 से 10 पदक मिलेंगे। आज पहले दिन भारतीय खिलाड़ियों ने प्रतिद्वंद्वी विदेशी खिलाडियों पर आक्रामक प्रहार के साथ उम्दा अंक जुटाए। इंटरनेशनल जुजुत्सू फेडरेशन के पदाधिकारियों ने इसी के साथ उम्मीद जताई कि जुजुत्सू एसोसिएशन आॅफ इंडिया के अध्यक्ष सेनसई सुरेश गोपी और महासचिव विनय जोशी की अगुवाई में भारत में जुजुत्सू के विकास की प्रबल संभावना है। वहीं भारतीय कोचेज भी विदेशी खिलाडियों के साथ रहकर खेल की नयी तकनीकों को समझ रहे हैं ताकि जुजुत्सू में नई तकनीकों से भारतीय खिलाड़ियों को अवगत कराया जा सके। वहीं जुजुत्सू एसोसिएशन आॅफ इंडिया ने सैयद रफत को उत्तर प्रदेश में जुजुत्सू के प्रचार-प्रसार की जिम्मेदारी सौंपते हुए उम्मीद जतायी है कि आने वाले समय में यूपी के जुजुत्सू खिलाड़ी राष्ट्रीय व अंतर्राष्ट्रीय पटल पटल में अपनी चमक छोड़ने में कामयाब होंगे।