दक्षिण अफ्रीकी रसेल डोमिंगो बने बांग्लादेश टीम के कोच

दक्षिण अफ्रीकी रसेल डोमिंगो बने बांग्लादेश टीम के कोच

ढाका: रसेल डोमिंगो को बांग्लादेश क्रिकेट टीम का नया मु्ख्य कोच नियुक्त किया गया है, बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड ने शनिवार को इसकी घोषणा की। डोमिंगो का बांग्लादेश टीम के साथ कार्यकाल 21 अगस्त से शुरू होगा। इस पूर्व दक्षिण अफ्रीका क्रिकेटर को दो सालों के लिए बांग्लादेश का कोच नियुक्त किया गया है।

डोमिंगो इस पद के लिए शॉट लिस्ट किए गए तीन लोगों में शामिल थे, जिनमें माइक हेसन (भारत कोच पद की रेस में हारे) और मिकी आर्थर (पाकिस्तान कोच के रूप में जिनका कार्यकाल आगे नहीं बढ़ाया गया) भी थे।

रसेल डोमिंगो खलील महमूद की जगह लेंगे, जिन्हें श्रीलंका के खिलाफ हालिया सीरीज के लिए बांग्लादेश का अंतरिम कोच बनाया गया था। खलील को ये जिम्मेदारी बीसीबी द्वारा आईसीसी वर्ल्ड कप 2019 के बाद स्टीव रोड्स का करार आगे न बढ़ाने की वजह से मिली थी।

बीसीबी अध्यक्ष नजमुल हसन ने कहा, 'हमने रसेल को चुनने का फैसला किया क्योंकि वह उपलब्ध रहेंगे। कुछ और भी उम्मीदवार थे, लेकिन हम कोई ऐसा व्यक्ति चाहते थे जो हमारे लिए उपलब्ध हो सके और निश्चित तौर पर उनके पास अनुभव है। हम एक ऐसा कोच चाहते हैं जिसके पास लंबे समय की योजना हो और वह इसमें फिट बैठते हैं क्योंकि वह छुट्टी लेने के इच्छुक नहीं हैं।'

बीसीबी ने हाल ही में बैटिंग कोच नील मैकेंजी का करार आगे बढ़ाने के बाद पूर्व दक्षिण अफ्रीका पेसर चार्ल लांगेवेल्ट को गेंदबाजी कोच और डेनियल विटोरी को स्पिन कोच नियुक्त किया था। लांगेवेल्ट और मैकेंजी दोनों दक्षिण अफ्रीका के उस सपोर्ट स्टाफ का हिस्सा थे, जिसमें रसेल भी शामिल थे।

रसेल डोमिंगो 2012 में दक्षिण अफ्रीका के टी20 कोच बने थे और 2013 में उन्होंने वनडे और टेस्ट में भी गैरी कर्स्टन की जगह ली। वह 2017 तक दक्षिण अफ्रीका के कोच रहे। डोमिंगो के कार्यकाल के दौरान दक्षिण अफ्रीकी टीम 2014 में बांग्लादेश में खेले गए टी20 वर्ल्ड कप और 2015 वर्ल्ड कप के के सेमीफाइनल तक पहुंची। साथ ही डोमिंगो ने दक्षिण अफ्रीका की घरेलू टीम वॉरियर्स को भी वनडे, टी20 टूर्नामेंट्स और चैंपियंस लीग टी20 में कोचिंग दी।

बांग्लादेश टीम को अगला इंटरनेशल मैच सितंबर में अफगानिस्तान के खिलाफ एकमात्र टेस्ट मैच के रूप में खेलना है, जिसके बाद वह तीन देशों के टी20 टूर्नामेंट में खेलेगी, जिसकी दो अन्य टीमें अफगानिस्तान और जिम्बाब्वे हैं।