स्मिथ को जब लगा आर्चर का बाउंसर तो बढ़ गयीं ऑस्ट्रेलिया की धड़कने

स्मिथ को जब लगा आर्चर का बाउंसर तो बढ़ गयीं ऑस्ट्रेलिया की धड़कने

लंदनः अपने करियर का पहला टेस्ट मैच खेलने उतरे इंग्लैंड के कैरेबियाई ऑलराउंडर जोफ्रा आर्चर ने एक बार फिर मैदान पर अपना खौफ बरकरार रखा है। विश्व कप में कुछ खिलाड़ियों को अपनी घातक गेंदों पर घायल करने के बाद अब उन्होंने टेस्ट क्रिकेट में भी कोई कसर नहीं छोड़ी है। लॉर्ड्स मैदान पर जारी दूसरे एशेज टेस्ट के चौथे दिन उनकी एक घातक गेंद का शिकार बने ऑस्ट्रेलिया के सबसे धाकड़ बल्लेबाज स्टीव स्मिथ। इस गेंद को देखकर मैदान पर मौजूद सभी की धड़कनें बढ़ गईं।

मामला चौथे दिन का है जब ऑस्ट्रेलियाई अपनी पहली पारी में बल्लेबाजी कर रही थी। पहले टेस्ट की दोनों पारियों में शतक जड़ने वाले स्टीव स्मिथ एक और शानदार पारी को अंजाम देने में जुटे थे। वो 80 रन बनाकर खेल रहे थे, तभी जोफ्रा आर्चर की एक तेज रफ्तार बाउंसर उनकी गर्दन के पिछले हिस्से में आकर लगी और स्टीव स्मिथ पिच पर ढेर हो गए। सभी खिलाड़ी दौड़कर उनके पास पहुंचे और फीजियो व डॉक्टर भी मैदान पर आ गए। काफी देर तक खेल रुका रहा और उसके बाद फैसला किया गया कि उनका 'कंकशन' (Concussion) टेस्ट करने के बाद ही मैदान पर भेजने का फैसला लिया जाएगा।

खैर, स्टीव स्मिथ हार मानने वालों में नहीं थे, जैसे ही पीटर सिडल के रूप में अगला विकेट गिरा, वो फिर मैदान पर उतर आए। मैदान पर मौजूद सभी दर्शकों ने खड़े होकर तालियों के साथ इस दिग्गज का स्वागत किया। वापसी के बाद उन्होंने 12 रन और बनाए और फिर 92 रन बनाकर क्रिस वोक्स की गेंद पर एलबीडब्ल्यू हो गए।

गौरतलब है कि साल 2014 में सीन एबॉट की ऐसी ही एक गेंद पर ऑस्ट्रेलिया के पूर्व दिग्गज बल्लेबाज फिल ह्यूज की मौत हो गई थी। सिडनी क्रिकेट मैदान पर फिल ह्यूज के सिर पर वो बाउंसर पिछले हिस्से में ही लगी थी और वो मैदान पर ही गिर गए थे। हादसे के बाद एबॉट सदमे में चले गए थे और उन्हें वापसी करने में काफी समय लगा। पूरा क्रिकेट जगत उस हादसे से थर्रा गया था। बाद में फैसला लिया गया था कि गर्दन के पिछले हिस्से को बचाने के लिए बल्लेबाज हेल्मेट के पीछे टू क्लिप गार्ड लगाकर ही खेलेंगे। हालांकि स्टीव स्मिथ मौजूदा मैच में उस प्रकार का हेल्मेट नहीं लगाकर खेल रहे हैं।