KMC उर्दू अरबी फ़ारसी वि0वि0 में छात्र सीखेंगे शोध की बारीकियां

KMC उर्दू अरबी फ़ारसी वि0वि0 में छात्र सीखेंगे शोध की बारीकियां

गिरी इंस्टीट्यूट आफ डेवलपमेंट स्टडीज़ के साथ MoU पर हुए हस्ताक्षर

लखनऊः ख्वाजा मुईनुद्दीन चिश्ती उर्दू-अरबी-फारसी विश्वविद्यालय, लखनऊ में आज गिरी इंस्टीट्यूट आफ डेवलपमेंट स्टडीज़ के निदेशक, प्रो0 बी0के0 वाजपेयी एवं विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो0 माहरूख मिर्ज़ा के द्वारा विश्वविद्यालय एवं गिरी इंस्टीट्यूट आफ डेवलपमेंट स्टडीज़ के मध्य हुये एम0ओ0यू0 पर हस्ताक्षर किये गये। इस अवसर पर प्रो0 बी0के0 वाजपेयी ने शोध विद्यार्थियों को सम्बोधित करते हुए उन्हें शोध के बारे में विस्तार से बताया और उन्हे शोध की बारीकीयों से अवगत कराया।

इस अवसर पर प्रो0माहरूख मिर्जा ने विद्र्याथियो को शोध मे बेहतर से बेहतर करने के लिए प्रेरित किया । प्रो0 मिर्जा ने गिरी विकास अध्ययन संस्थान के निदेशक का शुक्रिया अदा किया कि उन्होने इस विश्वविद्यालय को चुना। साथ ही उन्होने कहा कि विश्वविद्यालय लगातार शोध के क्षेत्र में नयी उचाईयो को प्राप्त करने कि लिए प्रयासरत है।

इस एम0ओ0यू0 के तहत विश्वविद्यालय गिरी विकास अध्ययन संस्थान के साथ समन्वय स्थापित कर आई0सी0एस0एस0आर0 के सभी प्रोजेक्टस प्राप्त करेगा, जिसमंे शिक्षकों की विदेश यात्रा भी सम्मिलित होगी। विश्वविद्यालय में प्रवेशित शोध विद्यार्थियों को गिरी विकास अध्ययन संस्थान हर सम्भव सहयोग दिया जायेगा। विश्वविद्यालय के शिक्षकगण एवं शोध विद्यार्थियों को गिरी विकास अध्ययन संस्थान की सभी पुस्तक जनरल एवं अध्यन सामग्री के उपयोग करने की पूर्ण सुविधायें दी जायेंगी। गिरी संस्थान में प्रवेशित सभी शोध विद्यार्थियों के शोध कार्य का मूल्यांकन विश्वविद्यालय द्वारा किया जायेगा और विश्वविद्यालय द्वारा उनको पी0एच0डी0 की उपाधि भी प्रदान की जायेगी।

इस अवसर पर विश्वविद्यालय के व्यवसाय प्रबन्धन विभाग के प्रो0 हैदर अली, वाणिज्य विभाग के विभागाध्यक्ष डाॅ0 एहतेशाम अहमद, अर्थशास्त्र विभाग के विषय प्रभारी प्रो0 फहीमउद्दीन, शिक्षाशास्त्र विषय के प्रभारी, प्रो0 वदुदुउल हक सिद्दीकी, गिरी विकास अध्ययन संस्थान के प्रो0 प्रशान्त त्रिवेदी के अतिरिक्त व्यवसाय प्रबन्धन, वाणिज्य एवं अर्थशास्त्र के शोध विद्यार्थी भी उपस्थित थे

Lucknow, Uttar Pradesh, India