बल्ले के बाद कप्तान राशिद ने दिखाया फिरकी का दम

बल्ले के बाद कप्तान राशिद ने दिखाया फिरकी का दम

चेन्नई (बांग्लादेश): स्पिनर राशिद खान के बल्ले के बाद गेंद से शानदार प्रदर्शन के बूते अफगानिस्तान ने एकमात्र टेस्ट के दूसरे दिन चाय तक बांग्लादेश के पांच खिलाड़ियों को पवेलियन भेज दिया। राशिद ने सुबह 61 गेंद में 51 रन की पारी खेली जिससे अफगानिस्तान ने पहली पारी में 342 रन बनाए और फिर इस स्पिनर ने चार विकेट चटकाए, जिसमें अपने पहले ही ओवर में एक विकेट झटकना भी शामिल रहा। दुसरे दिन खेल समाप्ति पर बांग्लादेश की टीम का स्कोर 8 विकेट पर रन था।

घरेलू टीम ने एक विकेट पहले ही ओवर में खो दिया जब तेज गेंदबाज यासिर अहमदजई ने पारी के पहले ही ओवर में बांग्लादेश के सलामी बल्लेबाज शादमैन इस्लाम को शून्य पर आउट कर दिया। लेकिन सौम्य सरकार और लिटन दास ने 49 रन की साझेदारी निभाई। मोहम्मद नबी ने सौम्य को 17 रन पर पगबाधा आउट किया। इसके बाद राशिद ने खुद को आक्रमण पर लगाया और लिटन को 33 रन पर आउट कर दिया।

राशिद ने पांचवें ओवर में शाकिब अल हसन को 11 रन पर पगबाधा आउट किया और दो गेंद बाद मुश्फिकर रहीम को शून्य पर पवेलियन भेजा। राशिद ने इससे पहले अफगानिस्तानी बल्लेबाजी की जिम्मेदारी उठाते हुए 61 गेंद में तेजी से 51 रन की पारी खेली, क्योंकि टीम ने पांच विकेट पर 271 रन से खेलते हुए जल्द ही कुछ विकेट गंवा दिये।

पूर्व कप्तान असगर अफगान अपने रात के 88 रन के स्कोर में केवल चार रन ही जोड़ सके और स्पिनर ताईजुल इस्लाम को विकेट दे बैठे जिन्होंने 116 रन देकर चार विकेट अपने नाम किये। बांग्लादेश के लिए ऑफ स्पिनर नईम हसन और शाकिब ने दो दो विकेट प्राप्त किए।

बता दें कि राशिद खान 20 साल 350 दिन की उम्र में अफगानिस्तान टेस्ट टीम की कप्तानी करते हुए टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में सबसे युवा कप्तान बन गए। राशिद ने जिम्बाब्वे के ताइतेंदा तायबू का 15 साल पुराना रिकॉर्ड तोड़, जिन्होंने 2004 में 20 साल 358 दिन की उम्र में श्रीलंका के खिलाफ हरारे में जिम्बाब्वे की टेस्ट कप्तानी करते हुए ये रिकॉर्ड बनाया था।