US OPEN: सेरेना को हराकर बियांका ने रचा इतिहास

US OPEN: सेरेना को हराकर बियांका ने रचा इतिहास

कनाडा के लिए जीता पहला ग्रैंडस्लैम

नई दिल्ली: अमेरिकी स्टार सेरेना विलियम्स को अमेरिकी ओपन टेनिस ग्रैंडस्लैम के फाइनल में कनाडा की सिर्फ 19 साल की बियांका आंद्रिस्कू ने हराया। मारग्रेट कोर्ट के 24वें ग्रैंडस्लैम खिताब की बराबरी करने उतरीं सेरेना को आंद्रिस्कू के हाथों सीधे सेटों में 6-3, 7-5 से हार का सामना करना पड़ा। आंद्रिस्कू मारिया शारापोवा के बाद अमेरिकी ओपन का खिताब हासिल करने वाली सबसे युवा खिलाड़ी बन गई हैं। शारापोवा ने 2006 में अमेरिकी ओपन जीता था। यूजीनी बूचार्ड (2014) के बाद 19 बरस की आंद्रिस्कू ग्रैंडस्लैम फाइनल में पहुंचने वाली कनाडा की दूसरी महिला खिलाड़ी हैं।

बियांका ने सेमीफाइनल में 13वीं रैंकिंग वाली स्विटजरलैंड की बेंचिच के खिलाफ पहले सेट में सेट प्वाइंट बचाया। यह मुकाबला उसने टाइब्रेकर में जीता। दूसरे सेट में वह 2-5 से पीछे थे लेकिन उसके बाद आखिरी पांच गेम अपने नाम करके हासिल करके जीत दर्ज की। उन्होंने यह मुकाबला 7-6, 7-5 से अपने नाम किया। वहीं सेरेना विलियम्स ने एलिना स्वितोलिना को हराकर अमेरिकी ओपन टेनिस ग्रैंडस्लैम के फाइनल में प्रवेश किया था। बियांका के इस शानदार जीत पर कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो ने बधाई दी है।