'ये तो असंवेदनशीलता की हद है', बांदा रेप केस में प्रियंका गांधी का योगी सरकार पर हमला

'ये तो असंवेदनशीलता की हद है', बांदा रेप केस में प्रियंका गांधी का योगी सरकार पर हमला

नई दिल्ली। यौन शोषण के आरोपों का सामना कर रहे स्वामी चिन्मयानंद इस समय यूपी पुलिस की गिरफ्त में हैं। उनकी गिरफ्तारी पर प्रियंका गांधी ने निशाना साधते हुए कहा कि जनदबाव के बाद गिरफ्तारी की गई। इसके साथ ही उन्होंने बांदा की एक रेप पीड़िता का मामला उठाते हुए योगी सरकार पर निशाना साधा।

बांदा रेप केस का जिक्र करते हुए प्रियंका गांधी ने कहा कि ये तो असंवेदनशीलता की हद है। इससे साफ है कि भाजपा सरकार महिला विरोधी है। बलात्कार पीड़ित लड़की से बलात्कार के दो गवाह मांगने की यह कौन सी मांग है। उन्होंने कहा कि यह आश्चर्य की बात है कि बांदा पुलिस केस दर्ज करने की जगह पीड़िता से 2 गवाह लाने को बोल रही है।

प्रियंका गांधी ने कहा कि यूपी सरकार बेटी बचाओ और बेटी पढ़ाओ की बात करती है। लेकिन उन्नाव, शाहजंहापुर और बांदा में क्या हुआ यह सबके सामने है। अगर विपक्षी दलों और जनता का दबाव नहीं रहा होता तो कुलदीप सिंह सेंगर और स्वामी चिन्मयानंद आजाद घूम रहे होते। मौजूदा योगी सरकार अपराध पर लगाम लगाने की दावा करती है। अपराधियों को मुठभेड़ में मारे जाने का दावा करती है। लेकिन यूपी की सड़कों पर क्या कुछ हो रहा है उसके बारे में और क्या कहा जाए।