पच्चीस गंभीर रोगों को दूर कर सकता है रोज़ दो लौंगों का सेवन

पच्चीस गंभीर रोगों को दूर कर सकता है रोज़ दो लौंगों का सेवन

लौंग एक ऐसा मसाला है जिसे अधिकतर लोग खाना पसंद नहीं करते हैं और इसका कारण है इसका कड़वा स्वाद। लेकिन क्या आप जानते हैं कि इस मसाले के सेहत के लिए जबरदस्त फायदे होते हैं। वर्षों से लौंग का इस्तेमाल पारंपरिक चीनी चिकित्सा में होता चला आ रहा है। आयुर्वेद में इसका उपयोग मितली, पाचन विकार और फ्लू का इलाज करने के लिए किया जाता है।

लौंग में पोटैशियम, फास्फोरस, आयरन, मैंगनीज, फाइबर, विटामिंस, ओमेगा 3, मैग्नीशियम और सोडियम जैसे कई अन्य तत्व मौजूद होते हैं, जिसका सेवन शरीर के लिए बहुत फायदेमंद होता है। लौंग का सक्रिय घटक यूजेनॉल तेल है। यह तेल प्रत्येक लौंग का लगभग 60-90% हिस्सा बनाता है और यह बैक्टीरिया, वायरस और कवक के खिलाफ काम करता है। इस तेल में एंटीसेप्टिक, एनेस्थेटिक गुण होते हैं।

इसमें एंटीऑक्सिडेंट गुण भी होते हैं, जिस वजह से इसका इस्तेमाल अरोमाथेरेपी में एंटीसेप्टिक और दर्द निवारक के रूप में किया जाता है, विशेष रूप से दांत दर्द और पेट दर्द के लिए। जो लोग नींद से परेशान हैं, वे आराम के लिए माथे पर तिल के तेल के साथ कुछ गर्म लौंग का तेल लगाते हैं। चलिए जानते हैं लौंग के और क्या-क्या फायदे होते हैं।

लौंग में प्रचुर मात्रा में फाइबर तत्व मौजूद होते हैं, जिसका सेवन रोज रात को सोते समय करना आपके पाचन तंत्र के लिए बहुत फायदेमंद होता है, अगर आप रोज रात को सोते समय लौंग खाकर एक गिलास पानी पीते है तो इससे आपकी पेट संबंधित कई दूर होने लगती हैं।

आज के इस दौर में बहुत से लोग सांस की बदबू से पीड़ित हैं। इससे राहत पाने के लिए आपको रोज रात को सोते समय 2 लौंग खाकर पानी पीना चाहिए। ऐसा करने से मुंह की बदबू जैसी समस्याएं दूर हो जाती है।

सर्दियों का मौसम आने वाला है और इस मौसम में सर्दी, खांसी, जुकाम और फ्लू जैसे विकार आम हैं। ऐसे में लौंग आपको इस समस्या से राहत दिला सकती है। इसके लिए आपको रात को सोने से पहले दो लौंग भूनकर खानी चाहिए। इससे आपको सर्दी-जुकाम में राहत के साथ गले में होने वाले दर्द से भी छुटकारा मिलेगा।

ऐसा माना जाता है कि लौंग का सेवन पुरुषों के यौन स्‍वास्‍थ्‍य के लिए फायदेमंद होता है। नियमित रूप से सेवन करने पर यह पुरुषों को शीघ्र स्‍खलन जैसी समस्‍याओं से बचा सकता है। इस तरह से लौंग का सेवन कर दोनों साथी लंबे समय तक सेक्‍स का आनंद उठा सकते हैं।

बदलते मौसम में अस्थमा और अन्य सांस की बीमारियाँ कॉमन हैं। जिन लोगों को श्वसन संबंधी समस्‍याएं होती हैं उनके लिए लौंग औषधी से कम नहीं है। इसमें ऐसे तत्व होते हैं, जो छाती और गले में जमा बलगम को निकालने में सहायक होते हैं। जिससे रोगी का गला और श्वसन मार्ग खुले हुए और स्‍वस्‍थ होते हैं। इसके अलावा लौंग का सेवन करने से यह सर्दी और जुकाम आदि के लक्षणों को कम करने में सहायक होता है।

इनके अलावा लौंग का इस्तेमाल पुरुषों में टेस्टोस्टेरोन बढ़ाने, दांत दर्द से राहत पाने, इम्युनिटी सिस्टम मजबूत करने, शरीर का दर्द दूर करने, सूजन से राहत पाने, तंबाकू की लत से छुटकारा पाने, फेफड़ों को साफ करने, सिरदर्द, पेट की गैस, हैजा से राहत पाने, पायरिया, दांत के कीड़े, काली खांसी, पेट का फूलना, कब्ज, बवासीर, मुंह के छाले, दस्त, हिचकी से राहत पाने के लिए भी किया जाता है।