वाशिंगटन पोस्ट, न्यूयॉर्क टाइम्स को ट्रम्प ने बताया ‘फर्जी’ अखबार

वाशिंगटन पोस्ट, न्यूयॉर्क टाइम्स को ट्रम्प ने बताया ‘फर्जी’ अखबार

वाशिंगटन: अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने अमेरिकी दैनिक ‘वाशिंगटन पोस्ट’ और ‘न्यूयॉर्क टाइम्स’ को ‘फर्जी’ बताते हुए इन अखबारों को मंगाना बंद कर दिया है तथा अन्य संघीय एजेंसियों से भी ऐसा ही करने को कहा है। मीडिया में आयी खबर में यह जानकारी दी गयी।

ट्रंप ने यह कदम ऐसे समय में उठाया है जब कुछ दिन पहले उन्होंने ‘फॉक्स न्यूज’ के साथ साक्षात्कार में यही बात दोहरायी थी। ट्रंप ने सोमवार को ‘न्यूयॉर्क टाइम्स’ को ‘‘एक फर्जी अखबार’’ बताया और कहा, ‘‘हम लोग इसे किसी कीमत पर व्हाइट हाउस में नहीं मंगाना चाहते। हम लोग ‘न्यूयॉर्क टाइम्स’ और ‘वॉशिंगटन पोस्ट’ को अब संभवत: नहीं मंगाएंगे।’’

साक्षात्कार में ‘न्यूयॉर्क टाइम्स’ ने ट्रंप के हवाले से लिखा, ‘‘वे (दोनों अखबार) फर्जी हैं।’’ ‘न्यूयॉर्क टाइम्स’ की खबर के अनुसार वेस्ट विंग में अधिकारियों ने बृहस्पतिवार को घोषणा की कि दोनों अखबारों की प्रतियां अब व्हाइट हाउस में नहीं आएंगी और प्रशासन अन्य संघीय एजेंसियों को कहने वाला है कि वे इन अखबारों को मंगाना बंद करें।

खबर के अनुसार ट्रंप ने प्रेस वालों को ‘‘जनता का दुश्मन’’ और उनकी आलोचनात्मक कवरेज को ‘फर्जी’ बताया। व्हाइट हाउस की प्रेस सचिव स्टिफनी ग्रिशम ने एक बयान में कहा, ‘‘सभी संघीय एजेंसियों में अखबार को मंगाना बंद करने से हजारों करदाताओं के पैसे बचेंगे।’’

बहरहाल ‘न्यूयॉर्क टाइम्स’ और ‘वॉशिंगटन पोस्ट’ के अधिकारियों ने इस पर टिप्पणी करने से इनकार कर दिया। व्हाइट हाउस प्रिंट पत्रकारिता का अहम उपभोक्ता है। ‘वॉल स्ट्रीट जर्नल’, ‘यूएसए टुडे’, ‘द फाइनेंशियल टाइम्स’ और अन्य प्रकाशन हर सुबह 1600 पेनसिल्वेनिया एवेन्यू में दिया जाता है।

खबर के अनुसार ट्रंप सबसे पहले ‘न्यूयॉर्क टाइम्स’ और ‘वॉशिंगटन पोस्ट’ को पढ़ना पसंद करते हैं। इस खबर पर प्रतिक्रिया देते हुए व्हाइट हाउस कॉरेसपांडेंट्स एसोसिएशन के अध्यक्ष जोनाथन कार्ल ने बृहस्पतिवार को कहा, ‘‘मुझे कोई संदेह नहीं है कि ‘न्यूयॉर्क टाइम्स’ और ‘वॉशिंगटन पोस्ट’ के मेहनती रिपोर्टर इस बात की परवाह किये बगैर कि राष्ट्रपति उन्हें पढ़ते हैं या नहीं, वे निरंतर गुणवत्तापूर्ण पत्रकारिता करते रहते हैं।’’ ऐसा पहली बार नहीं है जब किसी अमेरिकी राष्ट्रपति ने अखबार को मंगाना बंद किया हो।

खबर के अनुसार 1962 में जॉन एफ. केनेडी ने भी ‘न्यूयॉर्क हेराल्ड ट्रिब्यून’ के खबरों के कवरेज के तरीके से तंग आकर अखबार को व्हाइट हाउस में मंगाना बंद कर दिया था।