पहले सरकारें अयोध्या के नाम से डरती थीं: CM योगी

पहले सरकारें अयोध्या के नाम से डरती थीं: CM योगी

अयोध्या में इस बार बना 5.51 लाख दीये जलाने का विश्व रिकॉर्ड

अयोध्या: उत्तर प्रदेश के अयोध्या में शनिवार को दीपोत्सव कार्यक्रम का आयोजन किया गया जिसमें 5.51 लाख दीये जलाने का वर्ल्ड रिकॉर्ड कायम हुआ। सरयू नदी के किनारे राम की पैड़ी में आयोजित इस कार्यक्रम में यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सहित राज्यपाल आनंदीबेन पटेल भी शामिल हुईं।

इस मौके पर योगी आदित्यनाथ ने 226 करोड़ की परियोजनाओं का भी लोकार्पण किया। योगी आदित्यनाथ ने साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सराहना करते हुए कहा, 'पीएम मोदी ने राम राज्य की धारणा को साकार किया है।'

इस कार्यक्रम में योगी आदित्यनाथ ने विपक्ष पर भी तंज कसा और कहा, 'पहले की सरकारें अयोध्या के नाम से डरती थीं, लेकिन मैं अपने कार्यकाल के दौरान में डेढ़ दर्जन बार आ चुका हूं। राम की परंपरा पर हम सबको गौरव की अनुभूति होती है। पीएम मोदी ने राम राज्य की धारणा को साकार किया।' योगी ने साथ ही कहा, 'भारत किसी को छेड़ता नहीं लेकिन अगर कोई छेड़ता है तो फिर उसको छोड़ता नहीं। आज भारत उस स्थिति में पहुंच चुका है।'

योगी ने कहा, 'अयोध्या की पहचान दुनियाभर के सनातनियों के लिए वैसी ही है, जैसे अन्य धर्मों के अनुयाइयों के लिए उनकी विरासत है।' मुख्यमंत्रियों ने कहा कि सरकार केंद्र और प्रदेश के स्तर पर सभी तरह की योजनाओं को बिना जाति, पंथ के भेदभाव के बिना सभी तक पहुंचाने का काम कर रही है और यही राम राज्य है।

योगी सरकार पहले ही अयोध्या के दीपोत्सव मेले को ‘राज्य मेले’ का दर्जा देने के प्रस्ताव पर मुहर लगा चुकी थी। ऐसे में दीपोत्सव मेले का खर्च अब जिलाधिकारी के जरिए राज्य सरकार उठा रही है।

Uttar Pradesh, India