कानून व्यवस्था योगी सरकार के नियंत्रण में नहीं: अखिलेश

कानून व्यवस्था योगी सरकार के नियंत्रण में नहीं: अखिलेश

लखनऊ: समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा है कि उत्तर प्रदेश में कानून व्यवस्था भाजपा सरकार के नियंत्रण में नहीं रह गई है। हालात दिन पर दिन खराब होते जा रहे हैं। भाजपा सरकार के पास नागरिकों की मूल समस्याओं का समाधान नहीं है।

अखिलेश ने मंगलवार को जारी एक बयान में कहा है कि ऐसा लगता है कि जैसे प्रशासन पंगु हो गया है और भाजपा सरकार की राजनीतिक इच्छा शक्ति आखिरी सांसे ले रही है। कन्नौज के सौरिख क्षेत्र की किशोरी एक भाजपा नेता के खिलाफ दुष्कर्म और ब्लैकमेल का मुकदमा दर्ज कराने के लिए गोमतीनगर थाने के चक्कर लगाती रही। पुलिस द्वारा प्रकरण को दबाए जाने से आहत किशोरी ने जहर खा लिया तब पुलिस हरकत में आई।

उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि भाजपा राज में थाना पुलिस तो अब दिखावे के लिए रह गए हैं। अपराधियों को किसी का भय नहीं रह गया है। बांदा में खैराड़ा रोड पर स्थित ढाबे पर शुक्रवार रात दबंगों ने राकेश निषाद उर्फ खिलाड़ी की पहले पिटाई की और फिर अपने पैरो से दबाकर उसकी टांगे चीर डाली। मौके पर ही उसकी मौत हो गई। आंवला, बरेली में भूख से और सीतापुर में इलाज के अभाव में दम तोड़ देने की घटनाएं घटी है।

उन्होंने कहा है कि कौशाम्बी में चोरो ने एटीएम लूट लिया। बलात्कार और हत्या से लेकर कर्ज में फंसे किसानों की आत्महत्याओं के प्रति राज्य सरकार का रवैया पूर्णतया संवेदनहीन है। बेकारों की संख्या में लगातार वृद्धि भयावह भविष्य का संदेश दे रही है। जनता को अब भाजपा राज में अमन चैन और सम्मान से जीने की कोई उम्मीद नही बची है। भाजपा की सरकार सिर्फ दहशत और परेशानियों का पर्याय बनकर रह गई है।

Lucknow, Uttar Pradesh, India