अयोध्या विवाद: 25 हजार लोगों के खिलाफ निरोधात्मक कार्रवाई, ड्रोन से निगरानी शुरू

अयोध्या विवाद: 25 हजार लोगों के खिलाफ निरोधात्मक कार्रवाई, ड्रोन से निगरानी शुरू

लखनऊ: अयोध्या प्रकरण पर आने वाले फैसले को देखते हुए यूपी पुलिस ने और सतर्कता बढ़ा दी है। अब तक 25 हजार से ज्यादा लोगों के खिलाफ निरोधात्मक कार्रवाई की जा चुकी है। इन तक पुलिस ने नोटिस भी पहुंचा दी है। साथ ही चेतावनी भी दी गई है कि फैसले से जुड़ी कोई गलत टिप्पणी या धार्मिक उन्माद में बात कहने पर उनकी गिरफ्तारी भी की जा सकती है। वहीं अयोध्या के आस पास के जिलों को आपस में समन्वय बनाकर रहने को कहा गया है ताकि किसी तरह की जरूरत पड़ने पर त्वरित कार्रवाई की जा सके।

आईजी कानून व्यवस्था प्रवीण कुमार ने बताया कि रेंज के सभी आईजी को अलर्ट किया जा चुका है। अयोध्या और पड़ोसी जिलों लखनऊ, बाराबंकी, सीतापुर, अम्बेडकरनगर, बहराइच, गोरखपुर, बस्ती में सुरक्षा की समीक्षा भी शुक्रवार को की गई। इस दौरान लखनऊ से अयोध्या के बीच हाइवे पर बढ़ाई गई सुरक्षा को परखने के लिये भी सम्बन्धित थानेदारों को कह दिया गया है।

डीजीपी ओपी सिंह ने भी सभी कप्तानों से कहा है कि वे अपने यहां संवेदनशील थाना क्षेत्रों में रहने वाले संदिग्ध लोगों का ब्योरा तैयार करवा लें। साथ ही यहां पुराने मामलों में जमानत पर छूट कर आये लोगों के खिलाफ निरोधात्मक कार्रवाई करें। इसके अलावा अगर किसी के बीच साम्प्रदायिक लड़ाई हुई है तो उसे सुलझाने का प्रयास करें।

जिलों में बने कन्ट्रोल रूम में शुक्रवार सुबह पुलिस की दो टीमों ने कैमरों को परखा। इस दौरान यह देखा गया कि कैमरे ठीक से काम कर रहे हैं अथवा नहीं। यह भी देखा गया कि अगर संवेदनशील स्थानों पर कोई जगह कैमरे की नजर से छूट रही है तो वहां अतिरिक्त कैमरा लगवा लिया जाये।

Lucknow, Uttar Pradesh, India