सामाजिक परिवर्तन के लिए, बहुजन समाज को दिन रात एक करना होगा: लक्ष्य

सामाजिक परिवर्तन के लिए, बहुजन समाज को दिन रात एक करना होगा: लक्ष्य

सीतापुर: लक्ष्य की सीतापुर टीम द्वारा बहुजन जनजागरण अभियान के तहत एक कैडर कैम्प का आयोजन सीतापुर की बिसवां तहसील के गांव करौता में किया गया जिसमें गांव के लोगो ने बढ़चढ़कर हिस्सा लिया |

सामाजिक परिवर्तन के लिए बहुजन समाज को दिन रात एक करना होगा | कोई भी बदलाव जीवन में आसानी से नहीं होता है उसके लिए मजबूत इरादे, एक अच्छी रणनीति और ईमानदरी के साथ दिनरात मेहनत करके समाज को जागरूक करना होगा और जहाँ तक बहुजन समाज की स्थिति की बात है ये तो हजारो वर्षो की बिगड़ी हुई स्थिति है और दूसरी तरफ एक मजबूत ताकत नहीं चाहती है कि देश में बहुजन समाज की स्थिति में बदलाव आये अगर बहुजन समाज को अपनी स्थिति में बदलाव लाना है और सामाजिक परिवर्तन को देखना है तो उनको सभी तरह के भय से मुक्त होना होगा और समाज के प्रत्येक व्यक्ति को इसके लिए दिनरात एक करना होगा | यह बात लक्ष्य की महिला कमांडरों ने अपने सम्बोधन में कही |

उन्होंने बहुजन समाज के लोगो से आह्वान करते हुए कहा कि अपनी स्थिति में परिवर्तन के लिए आओ मिलकर सभी प्रकार के बंधनो को तोड़े और एक नए समाज का निर्माण करे | उन्होंने महापुरुषों के योगदान को याद करते हुए सामाजिक क्षेत्र में लक्ष्य की टीम द्वारा किये जा रहे कार्यो की भी विस्तार से चर्चा की | गांव के लोगो ने लक्ष्य के कमांडरों की जोरदार प्रशंसा की |

इस कैडर कैम्प में लक्ष्य कमांडर मुन्नी बौद्ध, राज कुमारी कौशल, पुष्पा भारती, शांति देवी, मीना सुमन, सावित्री बौद्ध, राजेश्वरी गौतम, संघमित्रा गौतम, रेखा आर्या व् लक्ष्य युथ कमांडर विनय प्रेम, अजय कुमार, सुशील कुमार ने हिस्सा लिया |

Uttar Pradesh, India