थारु जनजाति की संस्कृति को जानेंगी राज्यपाल आनंदी बेन पटेल

थारु जनजाति की संस्कृति को जानेंगी राज्यपाल आनंदी बेन पटेल

5 फरवरी को करेंगी कर्तनियाघाट का दौरा, तैयारियां तेज़

रमेश चंद्र गुप्ता

बहराइच। कतर्नियाघाट के जंगलों में बसी थारु जनजाति की संस्कृति से रूबरू होने के लिए राज्यपाल आनंदीबेन पटेल पांच फरवरी को आएंगी। गवर्नर के आने की सूचना के बाद तैयारियां तेज कर दी गई हैं। इसे लेकर गिरिजापुरी में हेलीपैड बनाया जा रहा है। सोमवार को डीएम और एसपी ने दौरा कर व्यवस्थाओं का जायजा लिया। कतर्नियाघाट वन्यजीव प्रभाग में थारु जनजातियों की बाहुल्यता है। कतर्नियाघाट के जंगलों मैं बसने वाली थारु जनजाति की संस्कृति अपने आप में बहुत कुछ समेटे हुए है। इस जनजाति की संस्कृति से रूबरू होने के लिए पांच फरवरी को उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल कतर्नियाघाट के दौरे पर आ रही हैं।

राज्यपाल का सरकारी कार्यक्रम राजभवन से जिला प्रशासन को भेजा जा चुका है। गवर्नर का कार्यक्रम मिलने की सूचना के बाद जिला प्रशासन में हड़कंप मच गया है।

जिलाधिकारी शंभु कुमार व पुलिस अधीक्षक डॉ. गौरव ग्रोवर सोमवार को राज्यपाल के आगमन को लेकर चल रहीं तैयारियों का जायजा लेने के लिए प्रशासनिक अमले के साथ कतर्नियाघाट पहुंचे। इस दौरान डीएम और एसपी ने गिरिजापुरी में बनाए जा रहे हेलीपैड का निरीक्षण किया। इसके बाद कतर्नियाघाट में होने वाले गेस्ट हाउस परिसर में कार्यक्रम के संबंध में अधिकारियों के साथ चर्चा की।

एसडीएम मोतीपुर ज्ञानप्रकाश त्रिपाठी ने बताया कि राज्यपाल के आगमन के मौके पर थारु जनजाति की बालिकाओं की ओर से सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किए जाएंगे। राज्यपाल यहां के वन ग्रामीणों के साथ संवाद भी स्थापित करेंगी। उनके कार्यक्रम की तैयारियों को अंतिम रूप दिया जा रहा है। निरीक्षण के दौरान अपर जिलाधिकारी जयचंद्र पांडेय, पुलिस क्षेत्राधिकारी नानपारा अरुणचंद्र, नायब तहसीलदार शशांक उपाध्याय, बीडीओ चंद्रशेखर प्रसाद आदि मौजूद रहे।

राजस्व ग्राम बनाने की आस

उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल के आगमन से कतर्निया में बसे पांच वनग्रामों के राजस्व ग्राम बनाए जाने की आस भी जगी है। कई दशक से कतर्निया के बिछिया, भवानीपुर, रमटेड़िया, दफेदार गौढ़ी समेत पांच गांव शामिल हैं। उम्मीद है कि गर्वनर के आने पर वन ग्रामों के राजस्व गांव बनाए जाने को अमलीजामा पहनाए जाने की कवायद तेज हो सकती है।

रात्रि विश्राम भी करेंगी गवर्नर

राज्यपाल आनंदीबेन पटेल कतर्नियाघाट गेस्ट हाउस में आयोजित कार्यक्रम में संवाद के बाद अधिकारियों के साथ कतर्निया में पर्यटन के अवसर को बढ़ाए जाने के उद्देश्य से चर्चा करेंगी। इसके बाद वह रात्रि विश्राम कर अगले दिन छह फरवरी को लखनऊ के लिए रवाना होंगी।

Uttar Pradesh, India