चीन में कोरोना वायरस से मरने वालों का आंकड़ा 908 हुआ

चीन में कोरोना वायरस से मरने वालों का आंकड़ा 908 हुआ

बीजिंग: चीन के स्वास्थ्य अधिकारियों ने सोमवार को कहा कि कोरोना वायरस की महामारी के कारण चीन में मरने वालों की संख्या 908 हो गई है और पुष्टि किए गए मामलों की संख्या 40,000 से अधिक हो गई है।

चीन के राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग ने कहा कि रविवार को 97 मौतें और घातक संक्रमण के 3,062 नए मामले सामने आए हैं। उसने बताया कि शनिवार को जिन 97 लोगों की जान गई उनमें से 91 हुबेई प्रांत के थे, जहां इस विषाणु के कारण सबसे अधिक लोग मारे गए हैं। इसके अलावा दो लोग अनहुइ में मारे गए। हीलोंगजियांग, जिआंगशी, हैनान और गान्सू में इससे एक-एक व्यक्ति की जान गई है।

आयोग के मुताबिक, 31 प्रांतीय स्तर के क्षेत्रों में इससे अब तक कुल 908 लोगों की जान जा चुकी है और कुल 40,171 मामलों की पुष्टि हुई है। उसने बताया कि रविवार को 296 मरीज गंभीर रूप से बीमार हो गए, 6,484 लोगों की हालत गंभीर बनी हुई है और 23,589 लोगों के इससे संक्रमित होने की आशंका है। जबकि कुल 3,281 लोगों को इलाज के बाद अस्पताल से छुट्टी भी दे दी गई है।

शिन्हुआ ने आयोग के प्रवक्ता मी फेंग के हवाले से बताया कि हुबेई के बाहर शनिवार को कोरोना वायरस से संक्रमण के कुल 509 नए मामले सामने आए जो गत सोमवार को आए मामलों के मुकाबले 42.8 प्रतिशत कम हैं। मी ने कहा, 'यह दिखाता हैं कि विभिन्न क्षेत्रों में बचाव एवं नियंत्रण की संयुक्त कार्रवाई और संख्त प्रबंधन का असर दिख रहा है। आंकड़ों के अनुसार, हुबेई के बाहर रविवार को कुल 444 नए पुष्ट मामले सामने आए। आयोग ने कहा कि पिछले दिनों के दौरान इन प्रांतों में नए पुष्ट मामलों की संख्या 890 थी, सोमवार को 731, मंगलवार को 731, बुधवार को 707, गुरुवार को 696, शुक्रवार को 558 और शनिवार को 509 थी। '

विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के प्रमुख ने शनिवार को कहा कि संयुक्त राष्ट्र की स्वास्थ्य एजेंसी चीन को एक अंतरराष्ट्रीय मिशन भेजेगी क्योंकि उसे बीजिंग से प्रतिक्रिया मिली थी। डब्ल्यूएचओ के महानिदेशक टेड्रोस अदनोम घेबियस ने कहा कि टीम के नेता अगले सप्ताह की शुरुआत में बाकी विशेषज्ञों से मशवरा करेंगे। संयुक्त राष्ट्र की स्वास्थ्य एजेंसी ने कहा कि चीन में कोरोना वायरस के मामलों की संख्या "स्थिर" थी, जो एक "अच्छी खबर" है। हालांकि, उन्होंने चेतावनी दी कि वायरस के चरम पर पहुंचने के बारे में कोई भी भविष्यवाणी करना जल्दबाजी होगी। डब्ल्यूएचओ के हेल्थ इमर्जेंसी प्रोग्राम के प्रमुख माइकल रेयान ने जिनेवा में एक ब्रीफिंग में कहा, "हुबेई से रिपोर्ट किए गए मामलों की संख्या में स्थिरता आई है।" हालांकि उन्होंने "किसी भी भविष्यवाणी करने को जल्दबाजी करार दिया।