दुनिया के लिए 'बड़ा संकट' बन सकता है कोरोना वायरस, WHO की चेतावनी

दुनिया के लिए 'बड़ा संकट' बन सकता है कोरोना वायरस, WHO की चेतावनी

नई दिल्ली: चीन की यात्रा नहीं करने वाले लोगों में कोरोना वायरस संक्रमण की घटनाओं पर चिंताओं जताते हुए विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के प्रमुख ने आगाह किया है कि ऐसे थोड़े बहुत मामले “बड़ी आग लगाने वाली चिंगारी” बन सकते हैं। डब्ल्यूएचओ प्रमुख ने देशों से करीब 1,000 लोगों की जान लेने वाले इस नये वायरस को रोकने के लिए “अनुकूल अवसर” का प्रयोग करने की अपील की है।

तेदरोस अदहानोम गेब्रेयसेस ने कहा कि भले ही सांस संबंधी बीमारी का प्रसार धीमा होता मालूम हो रहा हो, लेकिन यह बढ़ भी सकता है। अपनी इस टिप्पणी से एक दिन पहले उन्होंने कई देशों को आगाह किया था कि कोरोना वायरस का प्रसार “बड़े संकट का एक छोटा सा हिस्सा मात्र” हो सकता है।

गेब्रेयसेस ने सोमवार को जिनेवा में कहा, “हाल के दिनों में हमने कुछ ऐसे लोगों में संक्रमण फैलने के मामले देखे हैं जो कभी चीन नहीं गए, जैसे एक मामला कल फ्रांस में सामने आया और एक आज ब्रिटेन में। इन कुछेक मामलों का पता चलना एक ऐसी चिंगारी हो सकती है जो बड़ी आग का रूप ले सकती है।”

उन्होंने कहा कि इन कुछ मामलों का पता चलना महज एक चिंगारी हो सकती है और देशों के लिए लक्ष्य अब भी इसे नियंत्रित करने का है। चीन में कोरोना वायरस प्रकोप के कारण मरने वालों की संख्या 1,016 पर पहुंच गई है जहां 108 नये मामले सबसे अधिक प्रभावित हुबेई प्रांत से सामने आए हैं। चीन के स्वास्थ्य अधिकारियों ने मंगलवार को बताया कि 42,638 मामलों में संक्रमण की पुष्टि हुई है।

चीन के बाहर करीब 30 स्थानों पर दो मौतों के साथ संक्रमण के 350 से ज्यादा मामले सामने आए हैं। एक मौत फिलीपीन और दूसरी हांग कांग में हुई। जर्मनी के अलावा, ब्रिटेन, इटली और यूरोपीय देशों में फ्रांस, रूस, स्वीडन, बेल्जियम, फिनलैंड और स्पेन आदि में वायरस के मामले सामने आए हैं।