वीरप्पा मोइली ने कहा, कांग्रेस में “सर्जिकल कार्रवाई” की जरूरत

वीरप्पा मोइली ने कहा, कांग्रेस में “सर्जिकल कार्रवाई” की जरूरत

नई दिल्ली: दिल्ली विधानसभा चुनाव में कांग्रेस की हार को लेकर चिंता व्यक्त करते हुए वरिष्ठ नेता एम वीरप्पा मोइली ने पार्टी में फिर से जान फूंकने के लिए “सर्जिकल कार्रवाई” का बुधवार को आह्वान किया।

दिल्ली विधानसभा चुनाव में कांग्रेस का लगातार दूसरी बार खाता नहीं खुल सका। उसका मत प्रतिशत इस बार गिरकर 4.27 प्रतिशत रहा जबकि 2015 में उसका मत प्रतिशत 9.7 प्रतिशत रहा था। पूर्व केन्द्रीय मंत्री मोइली ने कहा कि कांग्रेस अच्छा प्रदर्शन नहीं कर सकी क्योंकि उसका ‘‘वोट बैंक आप की तरफ स्थानांतरित हो गया क्योंकि उनका मानना था कि केवल वह (आप प्रमुख अरविंद केजरीवाल) ही भाजपा को पराजित कर सकते है।’’

कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री मोइली ने कहा, ‘‘इस तरह लोग उस निष्कर्ष पर पहुंचे कि कांग्रेस पार्टी का समर्थन करने का कोई मतलब नहीं, अन्यथा इससे भाजपा को फायदा होगा।’’ उन्होंने कहा, ‘‘हम चिंतित हैं। दिल्ली का परिदृश्य यह है कि लोगों (मतदाताओं) ने कांग्रेस को गंभीरता से नहीं लिया। हमारा अपना वोट बैंक जो आमतौर पर हमारे पास आता था, आम आदमी पार्टी (आप) में चला गया।’’

मोइली ने कहा कि कांग्रेस दिल्ली में इस हार के बारे में चिंतित है। उन्होंने कहा, ‘‘यह एक सबक है जिसे हमें सीखना है।’’ उन्होंने कहा कि अब ध्यान पार्टी का पुनर्निर्माण करने और उसमें फिर से जान फूंकने पर होना चाहिए। उन्होंने कहा, ‘‘अब पार्टी का कायाकल्प करने के लिए कार्रवाई करने का समय है। इसे नया रूप देना होगा। शल्य क्रिया करनी होगी ताकि बेहतर परिणाम आने शुरू हो सके।’’