Women's T20 World Cup: भारत ने ऑस्ट्रेलिया को 17 रनों से हराया

Women's T20 World Cup: भारत ने ऑस्ट्रेलिया को 17 रनों से हराया

पूनम यादव ने 19 रन देकर झटके 4 विकेट

सिडनी: दीप्ति शर्मा (नाबाद 49) की शानदार पारी के बाद पूनम यादव (4 विकेट) की घातक गेंदबाजी की बदौलत भारतीय टीम ने सिडनी में खेले गए आईसीसी महिला टी20 विश्व कप के पहले मैच में ऑस्ट्रेलिया को 17 रनों से हरा दिया। इस जीत के साथ ही भारतीय टीम अंक तालिका में नंबर एक पर पहुंच गई है।

टॉस हारकर पहले बैटिंग करने उतरी भारतीय टीम ने निर्धारित 20 ओवरों में चार विकेट गंवाकर 132 रन बनाया। 133 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए ऑस्ट्रेलियाई महिला टीम 19.5 ओवर में 115 रन बनाकर ऑल आउट हो गई।

लक्ष्य का पीछा करने उतरी ऑस्ट्रेलिया टीम की ओर से एलिसा हीली ने अच्छी बल्लेबाजी की और टीम को शानदार शुरुआत दिलाई। भारतीय टीम को पहली सफलता शिखा पाण्डेय ने बेथ मूनी (6) को आउट कर दिलाई। इसके बाद राजेश्वर गायकवाड़ ने कप्तान मेग लानिंग (5) को विकेट के पीछे कैच कराया।

भारत के लिए मुश्किल बन रही एलिसा हीली को पूनम यादव ने 10वें ओवर में अपनी ही गेंद पर कैच लेकर पवेलियन भेजा। एलिसा 35 गेंदों में 6 चौके और एक छक्का की मदद से 51 रन बनाकर पवेलियन लौटीं।

इसके बाद पूनम यादव ने 12वें ओवर में दो विकेट लेकर भारत की मैच में वापसी करा दी। पूनम ने रशेल हैंस (6) और एलिस पैरी (0) को पवेलियन भेज दिया। इसके बाद 14वें ओवर में पूनम ने जेस जोनासन (2) को भी आउट कर दिया।

इसके बाद ऑस्ट्रेलिया की पूरी उम्मीद एश्ले गार्डनर टिकी थी, लेकिन दूसरी ओर से गिरते विकेट के दबाव में वह बड़े शॉट नहीं खेल पाईं और 20वें ओवर में शिखा पाण्डेय की गेंद पर उन्हीं को कैच थमा बैठीं। एश्ले गार्डनर ने 36 गेंदों में 3 चौके और एक छक्के की मदद से 34 रनों की पारी खेली।

भारत की ओर से पूनम यादव ने शानदार गेंदबाजी की और 4 ओवर में 19 रन देकर चार विकेट अपने नाम किया। इसके अलवा शिखा पाण्डेय को तीन सफलताएं मिली, जबकि राजेश्वरी गायकवाड़ ने एक विकेट झटका।

इससे पहले शेफाली वर्मा और स्मृति मंधाना की शानदार शुरुआत के बाद दीप्ति शर्मा की जुझारू पारी की बदौलत भारतीय टीम ने 20 ओवर में 4 विकेट गंवाकर 132 रन बनाया था। सोलह वर्षीय शेफाली वर्मा ने भारत को चार ओवर तक बिना विकेट गंवाए 41 रन तक पहुंचा दिया था। उन्होंने 15 गेंद में 29 रन की पारी खेली, जिसमें पांच चौके और एक छक्का जड़ा था, लेकिन उनके आउट होने के बाद पारी की लय बिगड़ गई और अन्य बल्लेबाजों ने निराश किया।

दीप्ति शर्मा ने 46 गेंद में नाबाद 49 रन की संयमित पारी खेली, लेकिन अंत में भारत को जिस आक्रामकता की जरूरत थी, उसकी कमी दिखायी दी। बल्लेबाजी का न्योता दिए जाने के बाद टीम शेफाली की पारी की बदौलत चार ओवर तक अच्छी स्थिति में थी।

हालांकि बाएं हाथ की स्पिनर जेस जोनासेन (24 रन देकर दो विकेट) ने तेजी से दो विकेट झटक लिए, जिसमें स्मृति मंधाना (11 गेंद में 10 रन) और हरमनप्रीत कौर (पांच गेंद में दो रन) का विकेट शामिल रहा। इससे भारत का स्कोर तीन विकेट पर 47 रन हो गया।

दीप्ति ने फिर जेमिमा रोड्रिग्स (33 गेंद में 26 रन) के साथ 53 रन की साझेदारी निभाकर 16वें ओवर तक भारत को 100 रन तक पहुंचाया। ऑस्ट्रेलिया के लिए एलिस पेरी (15 रन देकर एक विकेट) और डेलिसा किमिन्स (24 रन देकर एक विकेट) ने विकेट चटकाए। भारत की ओर से अंत में वेदा कृष्णमूर्ति ने 11 गेंदों में 9 रन बनाए।