वेलिंग्टन टेस्ट में भारत की शर्मनाक शिकस्त

वेलिंग्टन टेस्ट में भारत की शर्मनाक शिकस्त

वेलिंगटन. वेलिंगटन में खेले गए पहले टेस्ट मैच में न्यूजीलैंड ने भारत को 10 विकेट बड़ी मात दी है. पहली पारी में केवल 165 रनों पर सिमटने के बाद भारत दूसरी पारी में 183 रनों से पिछड़ रहा था. भारत (India) अपनी दूसरी पारी में भी बड़ा स्कोर खड़ा करने में नाकाम रहा और पूरी टीम केवल 191 रन ही बना पाई और कीवी टीम को जीत के लिए केवल नौ रनों का लक्ष्य दिया जो उसने बिना कोई विकेट खोए हासिल कर लिया. वनडे सीरीज में 0-3 की हार के बाद फैंस उम्मीद कर रहे थे कि वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप की नंबर एक टीम वापसी करेगी लेकिन ऐसा नहीं हुआ. वेलिंगटन में भारत (India) को वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप की पहली हार मिली वहीं यह न्यूजीलैंड की 100वीं टेस्ट जीत है.

भारत ने चौथे दिन की शुरुआत चार विकेट के नुकसान पर 144 रनों के साथ की. वह अपने खाते में 47 रन जोड़कर बाकी के सभी छह विकेट खोकर पवेलियन लौट गई. टिम साउदी ने दूसरी पारी में न्यूजीलैंड के लिए पांच विकेट लिए. वहीं ट्रेंट बोल्ट ने चार विकेट लिए. कोलिन डी ग्रांडहोम के हिस्से एक सफलता आई. डेब्यू मैच खेल रहे काइल जेमिसन ने पहली पारी में चार विकेट लिए थे लेकिन दूसरी पारी में वह एक भी विकेट नहीं ले सके. कीवी टीम के ओपनर बल्लेबाज टॉस लाथम और टॉम ब्लंडेल ने 10 गेंदों में ही लक्ष्य हासिल कर लिया.

चौथे दिन 144 के स्कोर में चार जोड़ते ही अजिंक्य रहाणे बोल्ट का शिकार बने और केवल 29 ही बना पाए. वहीं हनुमा विहारी को टिम साउदी ने बोल्ड किया. टीम के अनुभवी गेंदबाज आर अश्विन से बेहतर बल्लेबाजी की उम्मीद थी लेकिन वह केवल चार रन बनाकर साउदी की गेंद पर एलबीडब्ल्यू हो गए. इशांत और पंत ने पारी को संभालने की कोशिश की और 26 रनों की सझेदारी लेकिन इशांत कॉलिन डी ग्रैंडहोम की गेंद पर एलबीडब्ल्यू हो गए. पंत भी 41 गेंदों में 25 रन बनाकर साउदी की गेंद पर ट्रेंट बोल्ट को कैच थमा बैठे. भारत ने आखिरी विकेट बुमराह के तौर पर खोया जो अपना खाता भी नहीं खोल सके.